Medical Facility :उत्तराखंड के किन मेडिकल कालेजों में ट्रामा सेंटर स्थापित किए जाएंगे

उत्तराखंड के स्वास्थ्य मंत्री डॉ.धन सिंह रावत ने कहा कि स्वास्थ्य सुविधाओं को मजबूत करने के लिए सभी सरकारी मेडिकल कॉलेजों में ट्रामा सेंटर स्थापित किए जाएंगे।

देहरादून : उत्तराखंड के स्वास्थ्य मंत्री डॉ.धन सिंह रावत ने कहा कि स्वास्थ्य सुविधाओं को मजबूत करने के लिए सभी सरकारी मेडिकल कॉलेजों में ट्रामा सेंटर स्थापित किए जाएंगे। इन सेंटरों में 24 घंटे आपातकालीन स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराई जाएंगी।
सोमवार को दून मेडिकल कॉलेज में स्वास्थ्य मंत्री ने विश्व ट्रामा सप्ताह का शुभारंभ कर जागरूकता के लिए ट्रामा रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

 

दून मेडिकल कॉलेज और एम्स ऋषिकेश के सहयोग से पूरे प्रदेश में ट्रामा रथ के जरिये जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश के प्रत्येक मेडिकल कॉलेज में ट्रॉमा सेंटर स्थापित किए जाएंगे। जिसमें दून, श्रीनगर व हल्द्वानी मेडिकल कॉलेज में ट्रॉमा सेंटर बनकर तैयार हो गए हैं।

जल्द ही तीनों मेडिकल कॉलेजों में ट्रामा सेंटर शुरू हो जाएंगे। जबकि अन्य मेडिकल कॉलेजों में ट्रॉमा सेंटर की कार्यवाही गतिमान है। उन्होंने बताया कि इन ट्रॉमा सेंटरों में 24 घंटे आपातकालीन सुविधा उपलब्ध होगी। जिसमें न्यूरो, आर्थो, एनेस्थेसिया के डॉक्टर व अन्य मेडिकल स्टॉफ उपलब्ध रहेंगे।

उन्होंने कहा कि विश्व ट्रॉमा सप्ताह के अवसर पर प्रदेश भर में ट्रॉमा के प्रति लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से ट्रामा रथ को रवाना किया गया है। इस रथ के साथ 12 सदस्यीय टीम है। जिसे एम्स के चिकित्सक डॉ.मधुर उनियाल लीड कर रहे हैं। यह टीम नुक्कड़ नाटकों के माध्यम से लोगों को सड़क दुर्घटना रोकने के लिए जागरूक करेगी।

इस मौके पर स्वास्थ्य मंत्री ने चौरा चाकीसैंण निवासी शाखा देवी व चौथाण कांडई निवासी एक वर्षीय दीपक के तीमारदारों से उन दोनों की कुशलक्षेम भी पूछी। दोनों मरीज दून अस्पताल के आसीयू में भर्ती हैं। उन्होंने डॉक्टरों को दोनों के उपचार के लिए आवश्यक निर्देश दिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *