संसद का मानसून सत्र : हंगामे के चलते लोकसभा में नहीं हो सका प्रश्नकाल, राजनाथ ने कही ये बात …

संसद का मानसून सत्र पहले दिन ही हंगामे की भेंट चढ़ते दिखा। सदन शुरू होते ही विपक्ष ने सरकार की घेराबंदी शुरू कर दी है। भारी हंगामे के चलते

नयी दिल्ली। संसद का मानसून सत्र पहले दिन ही हंगामे की भेंट चढ़ते दिखा। सदन शुरू होते ही विपक्ष ने सरकार की घेराबंदी शुरू कर दी है। भारी हंगामे के चलते पहले दिन लोकसभा में प्रश्नकाल नहीं चल सका। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अपने नये सदस्यों का परिचय कराये जाने के दौरान कांग्रेस सदस्यों की नारेबाजी के बाद सदन को दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया।

Parliament's Monsoon

सदन की बैठक शुरू होने पर चार नवनिर्वाचित सदस्यों ने शपथ ग्रहण किया। इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से लोकसभा में मंत्रिपरिषद के नये सदस्यों का परिचय कराने के दौरान कांग्रेस समेत कुछ विपक्षी दलों के सदस्यों ने हंगामा किया। इस पर प्रधानमंत्री ने विपक्षी सदस्यों प्रहार करते हुए कहा कि कुछ लोगों को यह रास नहीं आ रहा है कि दलित, आदिवासी, ओबीसी और महिला मंत्रियों का यहां परिचय कराया जाए।

कांग्रेस के हंगामे के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि उन्होंने अपने 24 वर्षों के संसदीय जीवन में संसद में पहले कभी ऐसा नहीं देखा कि प्रधानमंत्री के मंत्रिमंडल विस्तार की जानकारी देने के दौरान हंगामा हुआ हो। रक्षा मंत्री ने कहा कि कांग्रेस सदस्यों की नारेबाजी दु:खद और दुर्भाग्यपूर्ण है।

वहीँ मानसून सत्र के पहले दिन राज्यसभा ने मशहूर अभिनेता दिलीप कुमार और महान धावक मिल्खा सिंह समेत 13 लोगों तथा दो वर्तमान सदस्यों-रघुनाथ महापात्र एवं राजीव सातव को श्रद्धांजलि दी गई। सदस्यों ने दिवंगत लोगों के सम्मान में कुछ क्षणों का मौन रखा। बताते चलें कि अभिनेता दिलीप कुमार ने उच्च सदन में महाराष्ट्र का प्रतिनिधित्व किया था।

इसी तरह सदन ने अपने पूर्व सदस्यों एनएम कांबले, भगवती सिंह, बलिहारी बाबू, चौधरी अजित सिंह, मतंग सिंह, जितेंद्र भाई भट्ट, रामेंद्र कुमार यादव रवि, जगन्नाथ पहाड़िया और शांति पहाड़िया को भी श्रद्धांजलि दी। इसके बाद दो वर्तमान सदस्यों महापात्र एवं सातव के सम्मान में सदन की बैठक एक घंटे के लिए स्थगित कर दी गयी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *