पूरे राज्य में आज शाम 6.00 बजे से 60 घंटे का लगेगा लॉकडाउन!

रतलाम नौ दिन, जबकि बैतूल, बड़वानी, खरगौन और कटनी एक सप्ताह के लिए पूरी तरह रहेंगे बंद

मध्य प्रदेश के सभी शहरों में शुक्रवार शाम 6.00 बजे से लॉक डाउन शुरू हो जाएगा। ये लॉक डाउन सोमवार सुबह 6.00 बजे तक प्रभावशील रहेगी। यानी कुल 60 घंटे सभी शहर पूरी तरह बंद रहेंगे। इनमें रतलाम जिले में नौ दिन का लॉक डाउन लगाया गया है, जबकि खरगोन, बड़वानी, कटनी और बैतूल में सभी बाजार और व्यावसायिक प्रतिष्ठान सात दिन बंद रहेंगे। दमोह में उपचुनाव के कारण लॉक डाउन नहीं लगाया गया है। वहीं, शाजपुर में बुधवार और छिंदवाड़ा में गुरुवार रात 8.00 बजे से एक सप्ताह का लॉक डाउन शुरू हो चुका है।

lockdown

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को मीडिया से बातचीत करते हुए कहा है कि पूरे मध्य प्रदेश में सभी शहर शुक्रवार शाम 6 बजे से शनिवार, रविवार, सोमवार को सुबह 6 बजे तक शहरी क्षेत्र बंद रहेंगे। यानी लॉक डाउन रहेगा। हम बड़े शहरों में कंटेनमेंट एरिया बना रहे हैं। ये परीक्षा की घड़ी है, हम कसर नहीं छोड़ेंगे।

गृह विभाग द्वारा जारी नवीन निर्देशानुसार कुछ विशेष सेवाओं और व्यक्तियों को लॉक डाउन में प्रतिबंधों से छूट दी गई है। इनमें केमिस्ट, राशन दुकानें, अस्पताल, पेट्रोल पम्प, बैंक, एटीएम, दूध एवं सब्जी की दुकानों, एम्बुलेंस एवं फायर ब्रिगेड सेवाओं को छूट दी गई है। औद्योगिक मजदूरों, उद्योगों के लिये कच्चा/तैयार माल, उद्योगों में कार्यरत अधिकारी-कर्मचारियों के आवागमन।

अन्य प्रदेशों से माल, सेवाओं का आवागमन, केन्द्र सरकार, राज्य सरकार एवं स्थानीय निकाय के अधिकारी-कर्मचारियों के आवागमन, टीकाकरण के लिये नागरिक/कर्मियों के आवागमन, परीक्षा केन्द्र आने-जाने वाले परीक्षार्थियों तथा परीक्षा केन्द्र एवं परीक्षा आयोजन से जुड़े कर्मचारियों और अफसरों के साथ ही बस स्टैण्ड, रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट से आने-जाने वाले नागरिकों के आवागमन को भी प्रतिबंध से मुक्त रखा गया है। इसके अतिरिक्त अन्य गतिविधियाँ, जिन्हें जिला कलेक्टर उचित समझें, लॉक डाउन से मुक्त रहेंगी।

दमोह में लॉक डाउन नहीं रहेगा

केवल दमोह में लॉक डाउन नहीं लगाया गया है। यहां 17 अप्रैल को विधानसभा उपचुनाव के लिए मतदान होना है। आचार संहिता लगी होने की वजह से लॉक डाउन लगाने का फैसला चुनाव अधिकारी को लेना होगा। उपचुनाव के चलते यहां नेताओं की रैलियां हो रही हैं।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *