सेक्स रैकेट का खुलासा करने के लिए पुलिस के तरीके से मची हलचल, असम की किशोरी को कराया आजाद

एक सेक्स रैकेट संचालिका को गिरफ्तार करते हुए असम की किशोरी को मुक्त कराया है। पुलिस आरोपित महिला से पूछताछ में जुटी है

मेरठ, 15 सितम्बर । जिले की एएचटीयू टीम ने सोमवार की रात को एक सेक्स रैकेट संचालिका को गिरफ्तार करते हुए असम की किशोरी को मुक्त कराया है। पुलिस आरोपित महिला से पूछताछ में जुटी है। एएचटीयू के प्रभारी बृजेश कुमार ने बताया कि मिशन रेस्क्यू ऑपरेशन एनजीओ के पदाधिकारी राजेंद्र सिंह ने लिसाड़ी गेट क्षेत्र में नाबालिग लड़कियों की खरीद-फरोख्त की सूचना दी थी।

sex racket

जिसके बाद पुलिस ने ग्राहक बनकर लक्खीपुरा निवासी सेक्स रैकेट संचालिका से संपर्क किया। सोमवार की रात पुलिस ने महिला को नौचंदी थाना क्षेत्र स्थित नई सड़क पर मंदिर के पास मिलने के लिए बुलाया था। जहां पुलिस ने 15 वर्षीय किशोरी के साथ पहुंची महिला को गिरफ्तार कर लिया।

पूछताछ के दौरान महिला ने बताया कि वह किशोरी को 24 हजार रुपये में चार दिन के लिए दिल्ली से खरीद कर लाई थी। वहीं, पीड़ित किशोरी ने महिला पर खुद से जबरन देह व्यापार कराए जाने का आरोप लगाया। पूरे रैकेट को पकड़ने केे लिये पुलिस महिला से पूछताछ कर रही है।

एनजीओ पदाधिकारी राजेंद्र सिंह का कहना है कि महिला पिछले काफी समय से नेपाल, असम और बंगाल से नाबालिग किशोरियों की खरीद-फरोख्त कर रही है। एएचटीयू प्रभारी बृजेश कुमार ने बताया कि महिला के खिलाफ ह्यूमन ट्रैफिकिंग और सेक्स रैकेट संचालन का मुकदमा दर्ज किया गया है। किशोरी के बयान मंगलवार को कोर्ट में कराए जाएंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *