संजय राउत बोले- शिवसेना को नहीं चाहिए सर्टिफिकेट, ऐसा हुआ तो हिंदुत्व की तलवार लहराते आएंगे आगे

संजय राऊत ने आगे कहा हिंदुत्व को लेकर राजनीति नहीं की जानी चाहिए

शिवसेना प्रवक्ता संजय राऊत ने कहा है कि हिंदुत्व को लेकर राजनीति नहीं की जानी चाहिए। हिंदुत्व की लौ बालासाहेब ठाकरे ने ही जलाई थी। इसलिए शिवसेना को हिंदुत्व के लिए किसी अन्य दल के प्रमाणपत्र की जरूरत नहीं है।

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को दादर स्थित बालसाहेब ठाकरे स्मारक पर उनकी स्मृति में पिता को श्रद्धांजलि अर्पित की। इस मौके पर पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर जोशी, उद्योग मंत्री सुभाष देसाई, पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे, पूर्व मंत्री रामदास कदम और प्रवक्ता संजय राऊत उपस्थित थे।

संजय राऊत ने पत्रकारों को बताया कि बालासाहेब ठाकरे ने ही हिंदुत्व की लौ जलाई थी, इसलिए हिंदुत्व शिवसैनिकों के खून में है। शिवसेना कभी भी हिंदुत्व पर राजनीति नहीं करती लेकिन जरूरत पड़ने पर पहली तलवार शिवसेना की ही निकलने वाली है। बालासाहेब ठाकरे ने ही भूमिपूत्रों की आवाज भी सबसे पहले बुलंद की थी, इसलिए शिवसेना भूमिपूत्रों के लिए काम कर रही है।

संजय राऊत ने कहा कि सिर्फ राजनीति के लिए जेएनयू का नाम पंडित नेहरू के नाम से बदलकर स्वामी विवेकानंद के नाम किया गया है। पंडित नेहरू का देश के लिए महत्वपूर्ण योगदान रहा है। सरकार को एक अलग विद्यापीठ स्थापित कर स्वामी विवेकानंद का नाम देना चाहिए था। उन्होंने कहा कि सिर्फ राजनीति को ध्यान में रखकर नाम बदलना किसी भी कीमत पर उचित नहीं है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *