मीडिया #Tablighi जमात को लेकर फैला रही ये झूठ, पुलिस ने किया खुलासा

नई दिल्ली ।। निज़ामुद्दीन मरकज के मामले के सामने आने के बाद #Tablighi जमात के विरूद्ध सोशल मीडिया से लेकर इलेक्ट्रोनिक मीडिया में प्रोपेगेंडा जारी है। हालांकि अब सच्चाई सामने आना शुरू हो गई।

हाल ही में भाजपा शासित राज्य यूपी के सहारनपुर पुलिस ने #Tablighi जमात पर लगाए गए आरोपों को जांच के बाद झूठा करार दे दिया। सहारनपुर पुलिस ने कहा है कि #Tablighi जमात से जुड़े लोगों की खबरों में कोई सच्चाई नहीं है। सहारनपुर पुलिस ने एक प्रसिद्ध हिंदी समाचार चैनल के एक समाचार फ्लैश पर भी प्रतिक्रिया व्यक्त की, जिसने जमाती और मुस्लिम समुदाय को अपमानित करने के लिए उकसाने वाली सुर्खियों को लगाया।

सहारनपुर पुलिस ने कहा कि हम यह बताना चाहते हैं कि हमने रामपुर मनिहारान के थाना प्रभारी को विभिन्न समाचार पत्रों, समाचार चैनलों और सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म द्वारा किए गए दावों को सत्यापित करने के लिए निर्देशित किया था कि जमात के लोगो ने क्वारंटाइन में हंगामा किया और सार्वजनिक रूप से शौच किया गैर-शाकाहारी भोजन मांगा। जांच के बाद, यह पाया गया कि विभिन्न समाचार पत्रों, समाचार चैनलों और इण्टरनेट प्लेटफार्मों द्वारा किए गए दावे नकली थे। इसलिए, सहारनपुर पुलिस उपरोक्त प्रकाशित समाचार को पूरी तरह से खारिज करती है।

पढ़िए-CORONA- पाकिस्तानी में हिंदुओं की मदद कर रहे अफरीदी!

इसी बीच सोशल मीडिया पर क्वारंटाइन किए गए लोगों के कुछ विडियो भी सामने आए है। जो लोगों की आँख खोलने के लिए काफी है। इन विडियो में देखा जा सकता है जिन अस्पतालों में उन्हे आइसोलेट किया गया है। वह गंदे है और जमात के लोग उनकी खुद साफ-सफाई कर रहे है। वह भी ऐसे हालत में जब उन पर डॉक्टर पर थूकने और नर्सों को छेड़ने के झूठे आरोप लग रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com