दर्दनाक हादसा- बैतूल में ट्रेन की चपेट में आए युवक का सिर 1300 किमी दूर में मिला

ट्रेन की चपेट में आए एक व्यक्ति का धड़ बैतूल में तथा सिर 1300 किलोमीटर दूर बेंगलुरु में मिला है।

मध्यप्रदेश के बैतूल जिले में एक दर्दनाक मामला सामने आया है। यहां ट्रेन की चपेट में आए एक व्यक्ति का धड़ बैतूल में तथा सिर 1300 किलोमीटर दूर बेंगलुरु में मिला है। सिर की शिनाख्त करती हुई बेंगलुरु पुलिस बैतूल पहुंची, जहां परिजनों ने सिर की पहचान अपने बेटे के रुप में की।

train accident

जीआरपी थाने के प्रधान आरक्षक वेदप्रकाश शर्मा के मुताबिक, घटना तीन अक्टूबर की है। रवि मरकाम नाम का युवक माचना पुल के पास ट्रेन की चपेट में आ गया था। उसके शरीर के कई टुकड़े हो गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने उसका शव इकट्ठा किया, लेकिन मौके से उसका सिर बरामद नहीं हुआ था।

हालांकि, चार अक्टूबर को शव के निशान और कपड़ों से उसकी शिनाख्त रवि के रूप में हो गई थी। स्वजनों ने उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया था। उधर घटनास्थल से 1300 किमी दूर जब ट्रेन बेंगलुरु पहुंची तो सफाई करने के दौरान सिर इंजन में फंसा हुआ मिला। उसका सिर इंजन के पिछले हिस्से में फंसकर बेंगलुरु तक पहुंच गया था।

इंजन में युवक का सिर मिलने के बाद एसआरपी कार्यालय ने इस रूट पर हुई दुर्घटना का ब्यौरा इकट्ठा किया। इस दौरान उन्हें बैतूल में घटना की जानकारी मिली। गत 12 अक्टूबर को जीआरपी बैंगलोर की टीम युवक के सिर का फ़ोटो लेकर यहां पहुंची। परिजनों ने फोटो देखकर सिर रवि का ही होने की पुष्टि की। परिजनों ने आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण बेंगलुरु जाने में असमर्थता जताई है और सिर लेने से मना कर दिया। ऐसे में अब बेंगलुरु पुलिस सिर का अंतिम संस्कार करेगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *