मौलाना साद की गिरफ्तारी के बाद हिंसा की आग में क्यों जल रहा पाकिस्तान

मौलाना साद की गिरफ्तारी के बाद पाकिस्तान में हिंसा, एक पुलिसकर्मी व 12 प्रदर्शनकारियों की मौत, 40 घायल

लाहौर॥ पाकिस्तान में इन दिनों अशांति फैली हुई है। दरअसर, मौलाना साद रिजवी की गिरफ्तारी (Arrest) के बाद पाक में हो रहे विरोध प्रदर्शन में पुलिस व प्रदर्शनकारियों के मध्य हुई खूनी झड़प में एक पुलिस अधिकारी तथा 12 लोगों के मरने व 40 जख्मी होने की खबर है।

Violence in pakistan

मौलाना साद की तरफ से इस्लामाबाद से फ्रांसीसी राजदूत को निष्कासित (Expelled) करने और फ्रांस से सभी सम्बंध खत्म करने की मांग करने पर उनको अरेस्ट कर लिया गया था।

लाहौर में इस्लामी पार्टी तहरीक-ए-लबैक पाकिस्तान के प्रमुख मौलाना साद रिजवी की सोमवार को हुई गिरफ्तारी के विरोध में समर्थकों ने सोमवार रात और मंगलवार को हिंसक प्रदर्शन किया। वरिष्ठ पुलिस अधिकारी गुलाम मुहम्मद डोगर ने बताया कि लाहौर के समीप शहादरा कस्बे में हुए टकराव में 10 पुलिसकर्मी जख्मी भी हुए हैं।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के लिए रिजवी की गिरफ्तारी की गई है। रिजवी को हिरासत में लेने के तुरंत बाद ही देश में हिंसक प्रदर्शन शुरू हो गए। कई शहरों में प्रदर्शनकारियों ने हाईवे और सड़क जाम कर दिया। अब सवाल ये उठ रहा है कि आखिर मौलाना साद की गिरफ्तारी पर पाकिस्तान में इतना दंगा फसाद क्यों हो रहा है।

maulana saad rizvi

इस्लामी पार्टी के चीफ मौलाना साद रिजवी ने सरकार को धमकी देने के आरोप में अरेस्ट किया गया है। रिजवी ने हजरत मुहम्मद की तस्वीर प्रकाशित कर उनका अपमान करने के लिए फ्रांस के राजदूत को देश से बाहर नहीं निकालने पर सरकार विरोधी प्रदर्शन की धमकी दी थी।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *