वायरस के नए स्ट्रेन के बीच WHO लिया सबसे बड़ा फैसला, दी ये अहम इजाजत

WHO ने कोरोना वायरस से बचाव के लिए फाइजर-बायोएनटेक के टीके के इमरजेंसी इस्तेमाल की इजाजत दे दी है।

WHO ने कोरोना वायरस से बचाव के लिए फाइजर-बायोएनटेक के टीके के इमरजेंसी इस्तेमाल की इजाजत दे दी है। साथ ही अब गरीब राष्ट्रों को भी ये टीके उपलब्ध हो सकेंगे। अब तक ये टीके यूरोप तथा नॉर्थ अमरीका में ही उपलब्ध थे।

corona vaccine

देशों की औषध नियामक एजेंसी किसी भी कोविड-19 वैक्सीन के लिए अपनी ओर से मंजूरी देती हैं, मगर कमजोर प्रणाली वाले देश आमतौर पर इसके लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन पर निर्भर करते हैं।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा कि कोविड-19 के टीके के आपात प्रयोग की इजजात  देने के उसके निर्णय से ‘‘देशों को मौका मिलेगा कि वे टीके आयात करने तथा इन्हें लगाने संबंधी अपने नियामकों की मंजूरी प्रक्रिया को गति प्रदान कर सकें।’’

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा कि फाइजर-बायोएनटेक द्वारा निर्मित इंजेक्शन संगठन द्वारा तय किए गए सुरक्षा मानकों एवं अन्य मापदंडों पर खरा उतरा है।

हम आपको बता दें कि इस टीके को अमरीका, ब्रिटेन, यूरोपीय संघ समेत अनेक देश स्वीकृति दे चुके हैं। इस टीके को बहुत ही कम तापमान पर रखना होता है जो विकासशील देशों के लिए एक बड़ी चुनौती है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *