क्या इस राज्य में छा जाएगा अंधेरा? बिजली जाने से पहले कर लें तैयारी

तो वहीं अब केंद्रीय कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कोयले की किल्लत को लेकर सफाई दी

नई दिल्ली॥ नेशनल कैपिटल दिल्ली में कोयले की कमी से जारी बत्ती गुल होने को लेकर निरंतर बयान सामने आ रहे हैं और अब इसे लेकर भारत की सियासत में गर्माहट देखने के लिए मिल रही है। पिछले शनिवार को दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने इस प्रकरण में भारतीय पीएम को लेटर लिखा था।

Electricity

तो वहीं अब केंद्रीय कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कोयले की किल्लत को लेकर सफाई दी। हाल ही में कोयला मंत्री ने कहा कि आयातित कोयले की प्राइस एकदम से बढ़ जाने के कारण बड़ा प्रभाव पड़ा है। तूफानी वर्षा घरेलू कोयला उत्पादन पर दबाव के चलते समस्या पैदा हुई है। बावजूद इसके अकेले अक्टूबर महीने में सबसे अधिक कोयले का उत्पादन हुआ है।

कोयला मंत्री ने कहा कि अगले 3-4 दिनों में हालात सामान्य हो जाएंगे। मुझे पता लगा है कि दिल्ली के सीएम ने भी खत लिखा है। NTPC इसे सम्हालता है। मैं वितरित सूचना के बाद बयान दूंगा।

आपको बता दें कि दिल्ली में बत्ती गुल होने से पहले वहां के लोग तैयारी कर लें। वरना अगर बिजली संकट होता है तो लोगों का बुरा हाल हो सकता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *