Yoga: कोरोना से जल्द रिकवरी चाहते हैं तो करें ये 5 योगासन, जल्द दिखेगा फायदा

भारत में कोरोना की तीसरी का असर तेजी से दिखने लगा है।ऐसे में खुद को फिट रखने और बीमारियों से बचाने के लिए आपको...Yoga...

भारत में कोरोना की तीसरी का असर तेजी से दिखने लगा है। ऐसे में खुद को फिट रखने और बीमारियों से बचाने के लिए आपको नियमित तौर पर योग (Yoga) और एक्सरसाइज करते रहना चाहिए। ऐसे करने से इम्यूनिटी मजबूत होगी। इसके साथ ही अगर आप कोरोना संक्रमण से भी रिकवर हुए ही तो योग आपको फायदा पहुंचाएगा। योग और एक्सरसाइज करने से करने से आपका शरीर स्वस्थ रहता है और मानसिक शांति मिलती है। आज हम आपको 4 ऐसे योगासन और प्राणायाम के बारे में बताएंगे जो कोविड-19 से जल्द रिकवरी में आपकी मदद करेंगे।

Yoga

कोरोना में योग (Yoga) का फायदा

गौरतलब है कि कोरोना की दूसरी लहर में लोगों को सांस लेने में काफी तकलीफ हुई थी क्योंकि कोरोना वायरस इंसान के लंग्स पर अटैक करता है। ऐसे में लंग्स को हमेशा हेल्दी बनाये रखने के लिए आपको रोजाना योगासन (Yoga) और प्राणायाम करते रहना चाहिए। इससे आपके फेफड़ों हेल्दी रहेंगे और बेहतर तरीके से काम कर सकेंगेए। एक्सपर्ट के अनुसार योग करने से छाती वाला हिस्सा खुलता है और फेफड़ों की कैपिसिटी बढ़ती है।

अनुलोम विलोम

शरीर के ऑक्सीजन लेवल को सुधारने के लिए अनुलोम विलोम करना चाहिए। अनुलोम विलोम में नाक के एक नथुने को दबाकर दूसरे नथुने से सांस छोड़ते हैं, फिर जिस नाक से सांस छोड़ी है उसी से वापस सांस लेनी होती है। ये क्रिया नाक के दोनों नथुनों से से करनी होती है। ये योगासन रोजाना करने से तनाव से भी राहत मिलती है। (Yoga)

प्रोनिंग

अगर आप कोरोना पॉजिटव है और आपको सांस लेने में दिक्कत हो रही है तो आपको प्रोनिंग करनी चाहिए। एक्सपर्ट्स बताते हैं कि अगर किसी का ऑक्सीजन लेवल कम हो रहा है तो घबराने की जरूरत नहीं है। अस्पताल पहुंचने से पहले प्रोनिंग कर लें। परवीन करने के लिए पेट के बल लेट कर गहरी लंबी सांस लेनी है। आपको प्रोनिंग पोजीशन में लेटना है।ऐसा करने से फेफड़े अच्छे से काम करने लगते हैं। आपको थोड़ी-थोड़ी देर के बाद पेट के बल जरूर लेटना चाहिए। इससे सांसों का फ्लो सही रहता है। (Yoga)

साई

इस प्राणाायम (Yoga) को करने के लिए सबसे पहले नाक से अंदर ज्यादा से ज्यादा सांस भरनी होती है। इसके बाद सांस छोड़ते वक्त होंठों से पाउट बना कर थोड़ी सी ‘हा’ की आवाज के साथ सांस को बाहर छोड़ना चाहिये। इस प्राणायाम को करने से भी टेंशन से छुटकारा मिलता है। ये सेहत के लिए भी लाभदायक होता है।

कपाल-भाति (Yoga)

कोरोना से रिकवर होने वालों को कपालभाति करना चाहिए। (Yoga)ये आपको तब करना चाहिए जब आप कोविड से पूरी तरह से रिकवर हो चुके हों। कपालभाति करने के लिए सबसे पहले लंबी गहरी सांस अंदर लेनी चाहिए। इसके बाद धीरे-धीरे सांस को बाहर छोड़ें। अगर सांस छोड़ते समय आपको किसी भी तरह का दबाव महसूस हो रहा हो तो इस आसन को न करें।

Asanas Of Yoga: Shilpa Shetty ने इंटरनेशनल योगा डे पर फैंस के साथ शेयर किया खास वीडियो, बताए योग के फायदे

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close