5AC423FB902F99F7B04A6C0E44CE75FA

भारत में छुपे आस्तीन के सांप, WhatsApp पर खुफियां बातें लीक करते हुए पकड़े गए वायुसेना के 40 अफसर

नेशनल डेस्क ।। देश की सुरक्षा को ताक पर रखकर भारतीय वायुसेना के 40 अधिकारियों ने Whatsapp पर गुप्त जानकारियां शेयर की है। हैदराबाद के प्रशिक्षण केंद्र पर सभी अफसर अपने मोबाइल लेकर कथितरूप से वर्जित स्थान पर गए थे।

जांच के दौरान पाया गया कि वायुसेना के अधिकारियों ने Whatsapp पर कई अति महत्वपूर्ण जानकारी अन्य लोगो से शेयर की है। हालांकि इस मामलें के तह तक पहुचने के लिए सुरक्षा एजेंसिया जांच में जुटी हई है।

पढ़िए- मोबाइल पर गंदी बातें कर जाल में फंसाती, घर बुलाकर पिलाती बीयर और कमरे में ले जाकर करती थी शिकार

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हैदराबाद के प्रशिक्षण केंद्र पर 40 वायुसेना के अधिकारियों ने कथितरूप से प्रतिबंधित क्षेत्र में मोबाइल ले जाकर सुरक्षा नियम तोड़े और Whatsapp आदि पर आधिकारिक सेवा से संबंधित खुफिया जानकारियां शेयर की। प्राथमिकी तौर पर मिल रही सूचना के अनुसार आधिकारिक पत्र और सिग्नलों को Whatsapp आदि पर शेयर किया गया है।

बेंगलूरु स्थित मुख्यालय ने सुरक्षा अधिकारियों को जब्त किए गए मोबाइल की जांच करने का निर्देश दिया है। साथ ही पता लगाने के लिए कहा है कि कहीं मोबाइल के जरिए सेवा संबंधित जानकारी या सुरक्षा से छेड़छाड़ तो नहीं की गई है। जांचकर्ता यह भी पता लगा रहे हैं कि क्या अफसर ने संवेदनशील सूचनाएं किसी को भेजी तो नहीं हैं।

गौरतलब हो कि भारतीय वायुसेना ने प्रशिक्षण केंद्र के भीतर मोबाइल के इस्तेमाल पर पूरी तरह से रोक लगाई है। दरअसल प्रशिक्षण केंद्र के अंदर मोबाइल लेकर जाने से फ्रीक्वेंसी मॉड्युलेशन रीसीवर में व्यवधान आता है।

ऐसा पहली बार नहीं है जब अफसर गुप्त जानकारियां सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए पकड़ाए है। इससे पहले साल 2018 में भी कुछ ऐसा ही मामला सामने आया था। दिसंबर, 2018 में भारतीय वायुसेना के एक अफसर को व्हाट्सएप्प के जरिये सूचना लीक करने के आरोप में हिरासत में लिया गया था।

वायुसेना मुख्यालय में तैनात एक ग्रुप कैप्टन को कथित तौर पर जासूसी में संलिप्त रहने और संवेदनशील दस्तोवेजों को हासिल करने के प्रयास को लेकर सेना ने हिरासत में लिया था। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि जांचकर्ता यह भी जांच कर रहे हैं कि क्या अफसर हनीट्रैप का शिकार बने हैं।

फोटो- फाइल

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com