पहली बार हुआ बड़ा खुलासा, बिल क्लिंटन पर फिदा थी लेविंस्की

img

www.upikran.org

यूपी किरण ब्यूरो

नई दिल्ली ।। मोनिका ने जब व्हाइट हाउस में कदम रखा था, तो वह महज 22 साल की थीं। उस वक्त पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन सत्ता में थे। वह उनका पहला कार्यकाल था। इसी दौरान लेविंस्की का क्लिंटन से आमना-सामना हुआ।

कामकाज के दौरान वह पूर्व राष्ट्रपति के संपर्क आई और उनके व्यक्तित्व से प्रभावित हुई। वह इतना प्रभावित थी कि काफी देर तक क्लिंटन को ही निहारा करती थी। इतना ही नहीं वह कई बार उनके आगे हड़बड़ाया भी करती थी और उनकी ये अदा ही क्लिंटन को भा जाती थी।

एक बार मोनिका ने अपने दिल के राज का खुलासा एक सहकर्मी लिंडा ट्रिप के साथ साझा किया। इस दौरान लिंडा ने मोनिका की सारी बातों को रिकॉर्ड कर लिया और शुरुआत में उसने इस राज को छुपा कर रखा, लेकिन सन 1998 में उन्होंने यह रिकॉर्डिंग दोनों के संबंधों की जांच करने वाले अधिकारी को सौंप दी।

मोनिका ने एक लेख में लिखा था कि मेरे बॉस ने मेरा फायदा उठाया। मैं हमेशा इस बात पर अडिग रहूंगी कि दोनों के बीच संबंध आपसी सहमति से थे। कुछ लोगों के बीच यह चर्चा थी कि क्लिंटन ने मुझे पैसे दिए होंगे, अन्यथा मैं चुप क्यों रही होती? मैं भरोसा दिलाती हूं कि यह पूरी तरह से झूठ है।

गुजरात से भाजपा सांसद को हैनीट्रैप में फंसकर पांच करोड़ की मांग करने वाली महिला को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। यह पहला मामला नहीं है देश में ही नहीं विदेशों में भी कई मामले देखने में आए हैं जहां हनीट्रैप में फंसाया गया है।

कुछ ऐसा ही मामला सन् 1998 में पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन और मोनिका लेविंस्की के बीच सामने आया था, जिसने अमेरिका के राजनीति में तूफान ला दिया था।

23 जुलाई 1973 कैलिफोर्निया के सैन फ्रांसिस्‍को शहर में पैदा हुई मोनिका लेविंस्की ने 1995 में लेविस एंड क्लार्क कॉलेज से स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद अपने एक पारिवारिक दोस्त की बदौलत व्हाइट हाउस में इंटर्न के तौर पर काम करने का मौका मिल गया। मोनिका की उस समय महज 22 साल की थी।

फोटोः फाइल

Related News