समीक्षा बैठक में डीएम की बड़ी कार्रवाही, इन अफसरों की रोकी तनख्वाह

img

www.upkiran.org

यूपी किरण ब्यूरो

अमेठी/उत्तर प्रदेश।। राज्य पोषण समिति के प्रगति की समीक्षा बैठक में डीएम योगेश कुमार काफी सख्त अंदाज़ में नज़र आए। उन्होनें लापरवाही बरतने के आरोप में 8 आफिसर्स की एक दिन की सैलरी रोकने का आदेश देते हुए स्पष्टीकरण मांगा है।

बता दें कि कलेक्ट्रेट स्थित सभागार में डीएम योगेश कुमार समीक्षा बैठक ले रहे थे। इस दौरान अधिकारियों द्वारा स्वयं गोद लिए गए गांवों में भ्रमण न करने की लापरवाही पर डीएम ने एक दिन का वेतन रोकने के साथ-साथ एक सप्ताह के भीतर उनसे स्पष्टीकरण प्राप्त करने का निर्देश दिया।

डीएम द्वारा की गई इस बड़ी कार्यवाई में मुख्य चिकित्सा अधिकारी, जिला खाद्य विपणन अधिकारी, अधि. अभियन्ता शारदा सहायक खण्ड 41, सहायक महानिरीक्षक निबंधन स्टाम्प, उपजिलाधिकारी तिलोई, मुसाफिरखाना, गौरीगंज व खण्ड विकास अधिकारी तिलोई पर गाज गिरी।

इन अफसरों को लगाई फटकार

डीएम ने समीक्षा के दौरान समस्त अधिकारियों को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा कि वे स्वंय गोंद लिए गांवों का निरन्तर भ्रमण करते रहे और ग्रामीणों की समस्यों का त्वरित निस्तारण करें ऐसा न करने पर संबंधित अधिकारी के विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी।

उन्होंने राज्य पोषण मिशन के समीक्षा आंकडों में अनियमिता पाये जाने पर समस्त एमओआईसी को कड़ी फटकार लगाते हुए यह निर्देशित किया कि समीक्षा आंकड़ों का अंकन सही ढंग से किया जाए।

डीएम ने दिए ये निर्देश

यही नहीं समीक्षा बैठक के दौरान अधिकारियों को अल्टिमेट करते हुए डीएम ने कहा कि संबंधित अधिकारी अपने भ्रमण के दौरान आख्या से संबंधित फोटों जिसमें स्वयं वो शामिल हो अवश्य लगाये।

नौजात शिशु, अतिकुपोषित बच्चों तथा गर्भवती महिलाओं के पति/पिता का नाम अवश्य अंकन करें। उन्होंने कहा कि अगर किसी गांव में ओ.डी.एफ. में कोई समस्या है तो उसका भी उल्लेख अवश्य करें।

फोटोः फाइल

इसे भी पढ़े

http://upkiran.org/3287

Related News