ताइवान ने की इस देश की मदद तो भड़क गया चीन, दी ये धमकी

ताइवान के आधिकारिक बयान के अनुसार चीन इस मामले में बेवजह विवाद खड़ा कर रहा है।

पराग्वे को ताइवान के माध्यम से भारत की एक लाख कोविड-19 वैक्सीन देने पर चीन भड़क गया है। जबकि चीन के वादाखिलाफी करते एक लाख वैक्सीन की डोज देने से मना करने पर ताइवान ने भारत के सहयोग से पराग्वे की सहायता की। ताइवान के आधिकारिक बयान के अनुसार चीन इस मामले में बेवजह विवाद खड़ा कर रहा है।

There will be war between Taiwan and China

ताइवान के विदेश मंत्री जोसेफ वू के इस खुलासे के बाद चीन ने ताइवान के खिलाफ कड़ी प्रतिक्रिया दी है। चीन ने कहा कि ताइवान को ये नहीं भूलना चाहिए कि वह चीन का हिस्सा है। ज्ञात रहे कि ताइवान को मान्यता देकर उसके साथ कूटनीतिक रिश्ते बनाने वाले दुनिया के 15 देशों में पराग्वे भी शामिल है।

चीन ने पहले पराग्वे को वैक्सीन देने का आश्वासन देने के बाद के बाद मुकर गया। जिसके बाद कोरोना संकट से जूझ रहे पराग्वे ने ताइवान की सहायता ली। ताइवान के विदेश मंत्री वू ने भारत के साथ अमेरिका और जापान से वार्ता कर इस समस्या को सुलझा दिया। वू ने कहा कि ताइवान से रिश्ता रखने के कारण पराग्वे की सहायता के लिए प्रयास किया है।

वहीं, चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झोऊ लिजिन ने कहा कि हम ताइवान को चेतावनी देते हैं कि वह वैक्सीन को राजनीतिक उद्देश्यों को पूरा करने के लिए इस्तेमाल न करे। क्योंकि वैक्सीन या डॉलर डिप्लोमेसी से ताइवान का खुद को स्वतंत्र करने का सपना पूरा नहीं होगा।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *